background

माता के स्वरुप का वर्णन

माता का श्रृंगार शीतला (ठंडे) औषधीय गुणों वाले उड़हुल फूल अथवा कली शीतला कोप से प्रभावित रोगियों के उपचार में बहुत लाभदायक सिद्ध हुआ है। इसी कारण इस वनस्पमति को माता का श्रृंगार कहा गया है।

माता का भोग – गाय का कच्चां दुध, अंकुरित अनाज (चना) नारियल जल, धृत-दुध तथा चावल सतू से निर्मित शीतल पकवान अति उत्तकम माने जाते हैं, क्योंतकि ये सभी योग्यअ पदार्थों में रोग निवारण करने की औषधीय गुण पाये गये हैं। अब तक पाठक माता शीतला के स्वेरूप सहित आयुवेंदिक चिकित्साठ पद्धति के सिद्धांतों से अवश्यु परिचित हो गय होंगे। यदि कहीं हमसे भूल हो गई हो तो अपने ज्ञान से हमें अवश्यि अवगत करायेगें।

सूचना पट्ट